बेबाक मीडिया : वंचितों के हिमायती स्वo मुरली पासवान की मनाई गयी पुण्यतिथि

हम बात कर रहे है राजपुर की पूर्व विधायिका स्व. श्यामप्यारी देवी के पति स्व. मुरली पासवान की.
                            फाइल फोटो 

1. समता पार्टी के गठन में थी विशेष भूमिका 
2. वंचित तबकों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों के विकास एवं सामाजिक न्याय में रखते थे विश्वास 
3. राजनितिक प्रतिद्वंदिता के कारण एक साजिस के तहत हुई हत्या 
                                                          फाइल फोटो 
बिहार के बक्सर जिले की राजनीति में अहम भूमिका निभाने वाले और बिहार में जॉर्ज फर्नांडिस और नीतीश कुमार के नेतृत्व में समता पार्टी के गठन में विशेष भूमिका निभाने वाले बक्सर जिले के राजपुर प्रखंड के एक प्रखर समाजसेवी और समाजवादी विचारधारा के नेता स्व. मुरली पासवान का भले ही आज के राजनीतिक गलियारों में कही नाम नही है , लेकिन एक समय ऐसा भी था जब स्व. मुरली पासवान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ,जॉर्ज फर्नांडिस और शरद यादव के बहुत खास हुआ करते थे और समता पार्टी जो बाद में जनता दल यूनाइटेड में विलय हो गयी उसके गठन में विशेष भूमिका थी , जी हा हम बात कर रहे है राजपुर की पूर्व विधायिका स्व. श्यामप्यारी देवी के पति स्व. मुरली पासवान की , अपने समय के प्रखर समाजसेवी और नेता जो समाजवाद के सिद्धांत में विश्वास रखते थे और हमेशा शोषित ,पीड़ित और दबे कुचले लोगो के हित की बात और सामाजिक न्याय की लड़ाई करते थे , आज उनकी पुण्य तिथि है ,आज ही के दिन 6जून1996 को राजनीतिक प्रतिद्वंदीता के कारण एक साजिश के तहत उनकी हत्या कर दी गयी ,जब वे पटना से वापस अपने गाँव आ रहे थे , आज उनके शहादत दिवस के अवसर पर उनके सुपुत्र धर्मपाल पासवान से बातचीत में बताया गया कि उस समय के दौर में मुरली पासवान का नाम बिहार की राजनीति में एक खासा नाम हुआ करता था , पूरे प्रदेश में उनकी एक अलग ही छवि थी और बक्सर जिले में आज भी लोग उनको याद करते है और उनके नेतृत्व का लोहा मानते है जो कभी उनके शागिर्द हुआ करते थे , आज भले ही उनका बिहार के राजनीति में कही नाम नही है लेकिन अपने जमाने के वे एक अनुभवी राजनीतिज्ञ थे और समता पार्टी के गठन में उनकी विशेष भूमिका थी यही कारण था कि वे जॉर्ज फर्नांडिस, नीतिश कुमार और शरद यादव के सबसे खास थे , बाद में उनकी पत्नी राजपुर विधानसभा की पूर्व विधायिका स्व. श्यामप्यारी देवी को जदयू ने टिकट दिया और वो जीतकर विधानसभा पहुची.

                                                                                                                           धर्मपाल 

  आज उनके सुपुत्र धर्मपाल पासवान भी अपने पिता स्व. मुरली पासवान की राजनैतिक विरासत को संभालते हुए बिहार की राजनीति और समाजसेवा में सक्रिय है और अभी भीम आर्मी बिहार के प्रदेश महासचिव पद पर है और दलित पिछडो और अल्पसंख्यको के मुद्दों पर शासन और प्रशासन के खिलाफ आवाज उठाते रहते है ।
                                                                                                                                          सन्तोष यादव 
                                                                
 स्वo मुरली पासवान के राजनितिक साह्योगी रह चुके जनहित अभियान, बिहार के संयोजक सन्तोष कुमार यादव ने बेबाक मीडिया प्रतिनिधि से बात करते हुए भावविभोर होकर उनके साथ बीते बहुत सारे यादगार पल को शेयर किया. श्री यादव ने बताया कि स्वo मुरली पासवान हंसमुख मिजाज के व्यक्ति थे. वे हर किसी के दुःख-सुख में शामिल रहते थे. श्री यादव 6जून की घटना को याद करते गमगीन होते हुए बताया कि समतामूलक समाज की लड़ाई लड़ते हुए समता पार्टी की स्थापना समारोह में शामिल होकर पटना से लौटने के क्रम में बक्सर स्टेशन के पास घात लगाए अपराधियों ने  इन्हें गोलियों से छलनी कर दिया। आज भी उनका चेहरा आँखों के सामने दिख रहा है, याद आ रहा है कि उस दिन  पटना से लौटते समय ट्रेन में साथियों के साथ मैं उनकी सामने वाली सीट पर  बैठा था।
आज नम आँखों से भाई मुरली पासवान को श्रद्धांजलि !
रिपोर्टर : गोल्डेन कुमार(बेबाक मीडिया)
 

Comments